Saturday, 18 July 2015

mansoon me choost -durust rahne ke liye apnaye ye tips मानसून में चुस्त-दुरुस्त रहने के लिये अपनाएं ये टिप्‍स

मानसून में चुस्त-दुरुस्त रहने के लिये अपनाएं ये टिप्‍स - मानसून की रिमझिम फुहारें आपकी सुबह-शाम की सैर में खलल डाल सकती हैं, तो इसका मतलब आपको कुछ दिनों तक करसत को भूल जाना चाहिए? एक फिटनेस विशेषज्ञ की सलाह है कि मानसून में भी फर्श पर दौड़कर या डांस कर स्वस्थ रहने की कोशिश की जा सकती है। 

* -आमतौर पर आप एक तय समय पर सैर या जिम के लिए जाते हैं। घर में भी एक तय समय पर ही व्यायाम करें और वैसे ही कपड़े पहनें, जैसे सैर या जिम जाते वक्त पहनते हैं। आसान से वार्म-अप से शुरुआत करें। कुछ मिनट फर्श पर दौड़ने जैसे व्यायाम से शुरुआत करें।
-घर में व्यायाम करने के लिए कूदने की रस्सी और कसाव लाने वाले बैंड जैसे कुछ आसान से व्यायाम उपकरण खरीद लें। ये बढ़िया विकल्प हैं, क्योंकि आप इनका इस्तेमाल अगले मानसून में घर में दोबारा कर सकते हैं।

 -आपके घर की सीढ़ियां अपने आप में व्यायाम का एक बेहतरीन उपकरण हैं। आप कुछ मिनट के लिए सीढ़ियां चढ़ने-उतरने का व्यायाम कर सकते हैं।

 -पुश-अप्स तथा ऊठक-बैठक मांसपेशियां मजबूत बनाने वाली अच्छी कसरत है।

 -योग करें। यह मानसून के दौरान होने वाली आम समस्या श्वास समस्या को घटाने में भी मदद करता है। 
-अगर आपको डांस अच्छा लगता है, तो ऐसे दिल खोलकर डांस करें कि मानो आपको कोई नहीं देख रहा है। यह मानसून में घर में की जाने वाली कसरत को मजेदार बनाने का एक तरीका है। घर के काम आपको फिट रखने का एक बेहतरीन तरीका हैं।

www.indiamotivation.in
email -as341305@gmail.com

vazan kam krne ke liye metabolgim bdane ke trike वजन कम करने के लिए मेटाबोल्जिम बढ़ाने के तरीके

वजन कम करने के लिए मेटाबोल्जिम बढ़ाने के तरीके  = शरीर में बढ़ता वजन कई बीमारियों को न्‍यौता देता है। अगर आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा बहुत ज्‍यादा है और उतनी आप खपत नहीं कर पाते हैं तो आपके लिए बहुत घातक है। शरीर में मेटाबोलिज्‍म एक ऐसी प्रक्रिया है जो कार्बोहाईड्रेट को घटा देती है और शरीर को पर्याप्‍त ऊर्जा देती है। 

जब आप युवा होते हैं तो मासंपेशियों में ऊर्जा का संचय हो जाता है जो आपका वजन बढ़ने से रोकता है, लेकिन जैसे ही आप 30 की उम्र पार कर लेते है, मेटाबोलिज्‍म कम होने लगता है और शरीर में वजन बढ़ने लगता है।

1. आप अपने खाने की प्रक्रिया में सुधार करें, लेकिन खाने में कटौती एकदम से न करें, वरना आपको कमजोरी आ सकती है। इसके लिए बेहतर है कि आप सही तरीके से प्‍लान करके खाने में सुधार लाएं। 

2. अगर किडनी में किसी प्रकार की समस्‍या हो, तो ज्‍यादा मात्रा में प्रोटीन का सेवन करने से बचें। इससे पाचन क्रिया में सुधार होगा और कैलोरी की मात्रा भी कम होगी।

3. दिन की शुरूआत भूखे रहकर न करें। खाने से ध्‍यान केन्द्रित होता है और आपका मूड भी अच्‍छा बनता है। 

4. दिन में तीन बार भोजन करें और दो बार स्‍नैक्‍स लें। इससे आप दिन भर कचर-कचर खाने से बचेगें।

5. इनमें कैफीन होने के कारण से ब्‍लड़ मेटाबोलिज्‍म को दुरूस्‍त रखती है। हालांकि, बहुत अधिक मात्रा में इसका सेवन नुकसान पहुंचा सकता है।

6. इससे आपके मेटाबोलिज्‍म में 5 प्रतिशत तक सुधार होता है और इसमें बहुत ज्‍यादा मात्रा में कैफीन भी नहीं होता है। इसमें एंटी-ऑक्‍सीडेंट भी होता है जो वजन को सही रखता है।

7. डार्क चॉकलेट भी आपके मेटाबोलिज्‍म को दुरूस्‍त रखता है और इसमें भी कैफीन और कैचीन्‍स की मात्रा होता है, इसलिए इसका भी अत्‍यधिक सेवन न करें। हर दिन सिर्फ 28 ग्राम डार्क चॉकलेट ही खानी चाहिए

8. जिंक, आपकी भूख को कम करता है और शरीर में लेप्टिन की मात्रा को कम करता है, जो एक प्रकार का हारमोन होता है जो आपको सुरक्षा की भावना देता है। जिंक, फलों, हरी सब्जियों और कद्दू के बीजों में पर्याप्‍त मात्रा में पाया जाता है। इसके लिए आप काजू, पालक, मछली, मशरूम, चॉकलेट, अनार, खजूर और वंदगोभी, आलू व ब्रोकली भी खा सकते हैं।

9. कैपीसीन एक ऐसा कैमिकल है जो शिमला मिर्च में पाया जाता है, इसकी शरीर में पर्याप्‍तता होने पर खाने के बाद कई घंटों के लिए आपकी ऊर्जा सेव रहती है और आपको वसा को कम करने में मदद मिलती है।

10. जब आप कसरत करते हैं तो आपकी मांसपेशियां एक्टिव हो जाती है और वह तेजी से फैट को बर्न करती हैं।

11. मूड को अच्‍छा बनाएं रखने के लिए आपको अपनी हेल्‍थ डाइट को सुधारना होगा, इससे आपकी आंतरिक रूप से अच्‍छा लगेगा और आपकी पर्सनालिटी में भी सुधार होगा।

12. फल, पोषक तत्‍वों से भरपूर और स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक होते हैं। इसके अलावा, इनके सेवन से आपको दिन भर ऊर्जा मिलती है।

13. दिन में थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ-कुछ खाएं जो आपको ताकत दें न कि फालतू की चटपटी चीजें। भूख लगने पर नट्स आदि खाएं

14. अंडा और मीट पर्याप्‍त मात्रा में खाएं। अगर आप शाकाहारी हैं तो हरी सब्‍जी, घी, दही आदि का सेवन करें।

15. दिन में कम से कम 8 गिलास पानी पिएं। थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीते रहें।

16. भरपेट व्‍यायाम न करें और न ही खाली पेट व्‍यायाम करें। व्‍यायाम करते समय आपका शरीर बहुत सारी कैलोरी बर्न करता है, इसलिए इस बात का ध्‍यान रखें।

17. आप भले ही दिन में कम खाएं, लेकिन जितना भी खाएं, वह अच्‍छा और पोषक तत्‍वों से भरपूर होना चाहिए।

18.वर्कआउट करें और स्‍वास्‍थ्‍य पर पूरा ध्‍यान दें। अगर आप टहलने जाते है तो कम से कम 10-15 मिनट की दौड़ लगाएं, इससे आपकी बॉडी फिट होगी।

19. स्‍वस्‍थ मेटाबोल्जिम, सिर्फ स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक भोजन से नहीं मिलता है इसके लिए आपके शरीर को आराम मिलना भी बेहद जरूरी होता है। इसलिए पर्याप्‍त नींद लें

20.  न ज्‍यादा खाएं, न ज्‍यादा व्‍यायाम न ही कोई अन्‍य काम। अपने ऊपर पूरा ध्‍यान दें और खुश रहें।  

jaidha jankari k leye email kare as341305@gmail.com



motapa bdane ke rahashya मोटापा घटाने के रहस्य

मोटापा घटाने के रहस्य   मोटापे से दुनिया की आज आधी आबादी परेशान है। मोटापा बढने के कई कारण हो सकते हैं। इनमें से प्रमुख है- अधिक चर्बीयुक्त आहार का सेवन करना, कम व्यायाम करना और स्थिर जीवन-यापन करना, असंतुलित व्यवहार और मानसिक तनाव की वजह से लोग ज्यादा भोजन करने लगते हैं, जो मोटापा का कारण बनता है, शारीरिक क्रियाओं के सही ढंग से नहीं होने पर भी शरीर में चर्बी जमा होने लगती है, बाल्यावस्था और युवावस्था के समय का मोटापा व्यस्क होने पर भी रह सकता है और हाइपोथाइरॉयडिज़्म आदि जैसे कारण मेन हैं।

 हम सभी मानते हैं कि यदि आप मोटे हैं तो कम खाइये और ज्‍यादा से ज्‍यादा व्‍यायाम कीजिये। पर ऐसा नहीं है, यदि ऐसा होता तो काफी लोग अपना वजन आसानी से कम कर चुके होते। अगर आप भी मोटापे का शिकार हैं और आपका वजन व्‍यायाम करने के बाद भी कम नहीं हो रहा है तो कहीं ना कहीं कुछ कमी रह गई है। यानी इसका यह मतलब नहीं है कि आप जरुरत से कम खाने लगे या फिर बहुत ज्‍यादा व्‍यायाम करने लगें। इसका यह मतलब होता है कि आपको अपनी लाइफस्‍टाइल में कुछ मामूली और जरुरी परिवर्तन करने होंगे।
आज हम आपको कुछ ऐसे ही आसान तरीके बताएंगे जिन्‍हें अपना कर आप मोटापे से काफी हद तक छुटकारा पा सकते हैं। पर आप को ख्‍याल रखना होगा कि अगर आपको मोटापा घटाना है तो इसे नियमित करना होगा नहीं तो आपको केवल निराशा के और कुछ हांसिल नहीं होगा।
1. यदि आप ने मोटापा घटाने का प्‍लान नहीं बनाया तो समझिये कि आप कभी पतले नहीं हो सकते। एक असली गोल बनाइये कि आप कितने दिनों में कितना वजन कम कर सकते हैं। एक बात का ख्‍याल रखियेगा कि खुद को परेशानी में ना डालियेगा।
2. नींद मोटापे से लड़ती है। रिसर्च के मुताबिक 7 से 8 घंटो की कम नींद भूख पैदा करती है, जिससे आप जरुरत से ज्‍यदा खा लेते हैं और मोटापा बढ जाता है। 
3. कई लोग खाना भी 4 टाइम खाएंगे और स्‍नैक्‍स भी। यदि आपको मिनट-मिनट पर स्‍नैक्‍स खाने की आदत है तो खाना थोड़ा कम खाइये क्‍योंकि इससे शरीर में कैलोरीज बढ जाती है।
4. कई लोग बस दिनभर खाते रहते हैं और उन्‍हें पता ही नहीं होता कि वे कितना खाना खा जाते हैं। आपने दिनभर में कितना खाया उसका हिसाब रखिये। 
5.   कार और बाइक होने के कारण बहुत से लोग पैर का उपयोग नहीं करते। वजन कम करने के लिये सीढि़यों का प्रयोग करें। इसके अलावा अपना मन पसंद स्‍पोर्ट्स खेलें।

6. 65 प्रतिशत लोग शुगर वाला पेय या कोल्‍ड्रिक्‍स आदि बहुत पीते हैं, जिससे पेट तो भरता नहीं बल्कि कैलोरी अलग से मिलती है।
7. एक कडक डाइट पर जाना आपके दिमाग और शरीर पर दोनों पर ही भारी पड़ सकता है। इसलिये एक सफल डाइट प्‍लान पर टिके रहने के लिये हफ्ते में एक बार पिज्‍जा या चाउमीन खा सकते हैं। ऐसा करने से आप संतुष्‍ट बने रहेंगे और अपनी डाइट को अच्‍छे से फॉलो करेंगे।
8. यदि आप पुरष हों या फिर महिला, भारी वजन उठाने से आपका फैट बर्न होगा। इससे मासपेशियां बनती हैं और शरीर का मैटाबॉलिज्‍़म बढता है। जब आप भारी वजन उठाते हैं तो आप बहुत तेजी से कैलोरीज़ बर्न करने लगते हैं।
9. दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों को खुद बताइये कि आप इन दिनों वजन कम कर रहे हैं, जिससे वे लोग भी आप का सपोर्ट करें।
10.  एक दिन में कई तरह के व्‍यायाम करें जैसे, 5 मिनट कार्डियो ट्रेडमिल, बाइक करने के तुरंब बाद डंबेल सर्किट, स्‍ट्रेचिंग और बेंट ओवर रो करें। इन व्‍यायामों को 8 बार लगातार करें।
11. वेट लॉस करना है तो अपने आहार से पास्‍ता, चावल और ब्रेड आदि को हटा कर फल और सब्‍जियां शामिल करें। इससे अगर आप ज्‍यादा भी खाएंगे तो भी वजन नहीं बढेगा।
12. यदि आपके पास जिम के लिये पैसे नहीं हैं तो घर पर ही रस्‍सी कूदिये। पहले 50 बार कूदिये और बाद में उसे बढा कर 100 कर दीजिये।
13. एक्‍सरसाइज करते वक्‍त केवल 10 से 30 सेकेंड का ही रेस्‍ट लें।यदि आप थका देने वाले व्‍यायामों को एक साथ मिला देंगे तो आपका वजन जल्‍दी कम होगा। यानी की पुशअप करते करते साथ में बुर्पी एक्‍सरसाइज कर लीजिये।जो लोग दिन में दो से तीन बार खाना खाते हैं उन्‍हें हफ्ते में 1 दिन उपवास जरुर रखना चाहिये। यह एक अच्‍छी टेक्‍नीक है जिससे आप आराम से वजन कम कर सकते हैं

14. रिसर्च में बताया गया है कि आपके भोजन में लगभग 25 से 30 प्रतिशत तक वसा होना चाहिये। हाई फैट फूड जैसे, मेवे, एवोकाडो और तेल आद‍ि आपको वजन कम करने में ज्‍यादा सहायता करेंगे। लेकिन अपने आहार में ट्रांस फैट यानी की जमा हुआ फैट ना लें। 

15. प्रोटीन खाने से मासपेशियां बनती हैं और फैट बर्न होता है। इसके अलावा पेट भी भरा रहता है।हम आपको शराबी बनने की हिदायत नहीं दे रहे हैं बल्‍कि यह कह रहे हैं कि आप दिनभर में खूब सारा पानी पीजिये। इससे आपको भूख नहीं लगेगी और पेट भी भरा रहेगा। भोजन करने के पहले भी 1 गिलास पानी पीना चाहिये, इससे आप मोटापे से बचे रहेंगे।1

16. कई लोगों को अपने भोजन में ठीक मात्रा में प्रोटीन नहीं मिल पाती तो ऐसे में उन्‍हें प्रोटीन शेक पीना चाहिये। जितना वजन हो उससे दो गुना प्रोटीन का सेवन करना उचित माना गया है।

motapa : kaise hota hai kam मोटापा : कैसे होता है कम ?

मोटापा : कैसे होता है कम

1. अक्सर महिलाएं भोजन के बाद खूब पानी पिया करती हैं। भोजन के अंत में पानी पीना सही नहीं होता, बल्कि एक-डेढ़ घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए। इससे पेट और कमर पर मोटापा नहीं चढ़ता, बल्कि मोटापा भी कम हो जाता है।

2. आहार भूख से थोड़ा कम ही लेना चाहिए। इससे पाचन भी ठीक होता है और पेट बड़ा नहीं होता। पेट में गैस नहीं बने इसका खयाल रखना चाहिए। गैस के तनाव से तनकर पेट बड़ा होने लगता है। दोनो समय शौच के लिए अवश्य जाना चाहिए।

3.  भोजन में शाक-सब्जी, कच्चा सलाद और कच्ची हरी शाक-सब्जी की मात्रा अधिक और चपाती, चावल व आलू की मात्रा कम रखना चाहिए।

4.  सप्ताह में एक दिन उपवास या एक बार भोजन करने के नियम का पालन करना चाहिए। उपवास के दिन सिर्फ फल और दूध का ही सेवन करना चाहिए।

 5. पेट व कमर का आकार कम करने के लिए सुबह उठने के बाद या रात को सोने से पहले नाभि के ऊपर के उदर भाग को 'बफारे की भाप' से सेंक करना चाहिए। 

6.इस हेतु एक तपेली पानी में एक मुट्ठी अजवायन और एक चम्मच नमक डालकर उबलने रख दें। जब भाप उठने लगे, तब इस पर जाली या आटा छानने की छन्नी रख दें। दो छोटे नैपकिन या कपड़े ठंडे पानी में गीले कर निचोड़ लें और तह करके एक-एक कर जाली पर रख गरम करें और पेट पर रखकर सेंकें। प्रतिदिन 10 मिनट सेंक करना पर्याप्त है। कुछ दिनो में पेट का आकार घटने लगेगा।

7.सुबह उठकर शौच से निवृत्त होने के बाद निम्नलिखित आसनों का अभ्यास करें या प्रातः 2-3 किलोमीटर तक घूमने के लिए जाया करें। दोनों में से जो उपाय करने की सुविधा हो सो करें।

 8. भुजंगासन, शलभासन, उत्तानपादासन, सर्वागासन, हलासन, सूर्य नमस्कार। इनमें शुरू के पांच आसनों में 2-2 मिनट और सूर्य नमस्कार पांच बार करें तो कुल 15 मिनट लगेंगे। इन आसनों की विधि वेबदुनिया के योग चैनल से प्राप्त की जा सकती है।


9. भोजन में गेहूं के आटे की चपाती लेना बन्द करके जौ-चने के आटे की चपाती लेना शुरू कर दें। इसका अनुपात है 10 किलो चना व 2 किलो जौ। इन्हें मिलाकर पिसवा लें और इसी आटे की चपाती खाएं। इससे सिर्फ पेट और कमर ही नहीं सारे शरीर का मोटापा कम हो जाएगा।


10. प्रातः एक गिलास ठंडे पानी में 2 चम्मच शहद घोलकर पीने से भी कुछ दिनों में मोटापा कम होने लगता है। दुबले होने के लिए दूध और शुद्ध घी का सेवन करना बंद न करें। वरना शरीर में कमजोरी, रूखापन, वातविकार, जोड़ों में दर्द, गैस ट्रबल आदि होने की शिकायतें पैदा होने लगेंगी।

adhick jankiri k liyia email kare as341305@gmail.com

Friday, 17 July 2015

sundar tvcha pane ke liye apnaiye baba ramdev ke ye nushkhe सुंदर त्‍वचा पाने के लिये अपनाइये बाबा रामदेव के ये नुस्‍खे

सुंदर त्‍वचा पाने के लिये अपनाइये बाबा रामदेव के ये नुस्‍खे 

                                                                                                                                            -देश के जाने माने योग गुरु को बाबा रामदेव की कही हर बात को लोग अपनी जिंदगी में जरुर शामिल करते हैं। ऐसा इसलिये क्‍योंकि बाबा रामदेव दवाई खाने के हक में ना बोल कर अपनी बीमारी को प्राकृतिक और आयुर्वेदिक तरीके से ठीक करने के लिये जोर देते हैं। इस लेख में आज हम आपको बाबा रामदेव के बताए गए कुछ बहुत ही आसान से नुस्‍खों के बारे में बताएंगे जो कि आपके चेहरे को सुंदर और गोरा बनाने में मदद करेगें। हांलाकि बाबा रामदेव के बताए गए ये टिप्‍स किसी जादू की छड़ी की तरह तुरंत काम नहीं करेंगे, इन्‍हें काम करने में हफ्ते-दो हफ्ते या 1 महीना भी लग सकता हैi 





1. कपालभाति और प्रणायाम करें  यह सांस लेने की एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके दृारा फेफड़े बिल्‍कुल साफ हो जाते हैं। इसमें ज्‍यादा से ज्‍यादा ऑक्‍सीजन अंदर जाती है और कार्बन डाइऑक्‍साइड बाहर आती है। अगर आप इसे 6 महीने तक करेंगी तो आपकी स्‍किन में शाइन आएगी। इसे दिन में 1 बार 30 मिनट के लिये जरुर करें।

2. ताजा जूस पीजिये आपको कोल्‍ड्रिंक आदि छोड़ कर रोज ताजा जूस पीना चाहिये। इससे आपकी स्‍किन ग्‍लो करेगी।

3. अपने चेहरे को रगड़ें   नहाने के बाद या नहाते समय अपने चहरे को मुलायम तौलिये से 1-2 मिनट के लिये हल्‍के हल्‍के रगडिये। इससे आकपी स्‍किन टाइट बनेगी और कोमल भी हो जाएगी।

4. हमेशा अच्‍छा सोचें  अपने दिमाग में हमेशा अच्‍छा विचार लाएं। इससे आप अंदर से खुश रहेंगी और चेहरे पर भी वह चीज साफ दिखेगी।





5. एलोवेरा मसाज   अपचे चेहरे, गरदन और हाथों को एलोवेरा के गूदे से दिन और रात के वक्‍त मसाज करें। इससे चेहरे पर एक्‍स्‍ट्रा शाइन आएगी।






6. नींबू का प्रयोग   चेहरे पर पड़े दाग-धब्‍बे, सन टैनिंग और पिंपल आदि को प्राकृतिक रूप से खतम करने के लिये नींबू को दिन में एक बार चेहरे पर रगड़ना चाहिये और बाद में हल्‍के गरम पानी से धो लेना चाहिये।

7. कच्‍चा दूध का प्रयोग   रात को रोजाना सोने से पहले, चेहरे पर कच्‍चा दूध लगा कर सो जाएं। फिर सुबह ठंडे पानी से चेहरे को धो लें। इससे आपके चहरे पर तुरंत ही ग्‍लो आएगा। रोजाना ऐसा करने से चेहरा गोरा बनेगा।

8. खूब पानी पीजिये  आपको दिन में 3 से 4 लीटर पानी पीना चाहिये। इससे त्‍वचा लचीली बनेगी और अंदर से शाइन करेगी।

9.अच्‍छे से सोएं सोने का एक रूटीन बनाएं। आपको 8 घंटे की नींद जरुर लेनी चाहिये। रामदेव जी बताते हैं कि इंसान को रात में 10 या ज्‍यादा से ज्‍यादा 11 बजे तक सो जाना चाहिये नहीं तो आंखों के नीचे काले घेरे पड़ जाते हैं। साथ ही सुबह जल्‍दी उठना चाहिये।

 plese comment as341305@gmail.com

workout ke doran pani peena kyo hai zorori ? वर्कआउट के दौरान पानी पीना क्‍यूं है जरुरी?

वर्कआउट के दौरान पानी पीना क्‍यूं है जरुरी
  


                                                                         शरीर के लिये पानी का कितना महत्‍व है, ये कोई बताने वाली बात नहीं है। लेकन वर्कआउट करते समय पानी पीना कितना जरुरी होता है, यह काफी कम लोगों ही जानते हैं। जिस तहर किसी मशीन को लगातार चलाने के लिये तेल की आवश्‍यकता पड़ती है, ठीक उसी तरह आपके सिस्‍टम को चलाने के लिये भी पानी की जरुरत पड़ती है। 

 अगर आप रोज़ फिट रहने के लिये वर्कआउट करते हैं, तो आपको बेहतर ढंग से पानी पीने की जरुरत है। पानी आपके परफॉर्मेंस लेवल को बढ़ाने का काम करता है। अगर आप वर्कआउट करने से पहले और उसके दौरान पानी का सेवन ठीक से नहीं करेंगे तो, आप ठीक ढंग से वर्कआउट नहीं कर पाएंगे और बीच में ही बुरी तरह से थक जाएंगे। पानी हमारी मासपेशियों को रिकवर करने में मदद करता है। हेल्‍थ एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि वर्कआउट के दौरान हमारी मासपेशियां जल्‍दी थक जाती हैं और अच्‍छी तहर से परफॉर्म नहीं कर पाती, जिससे चोट लगने का काफी खतरा रहता है। इसलिये पानी के महत्‍व को कभी नहीं भूलना चाहिये।

www.indiamotivation.in

joging krne ke phayade ? जागिंग करने के फायदे ?

जागिंग करने के फायदे

जागिंग करना   या फिर दौड़ने से हमे अच्‍छी सेहत मिल सकती है। यह हृदय को मजबूती देती है और इससे मासपेशियां मजबूत होती है तथा शरीर मजबूत भी बनता है। रोजाना सुबह जागिंग करने से कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। अगर आप दुबले होने का बहुत दिनों से प्रयास कर रहे हैं तो भी जौगिंग कीजिये क्‍योंकि इससे आप पतले हो सकते हैं। यही नहीं इससे उम्र भी बढती है तो दोस्‍तों बिना कुछ सोचे समझे आज से ही दौड़ने का प्रण ले लें। जागिंग करने से आप बीमारियों से दूर रहते हैं और आपका शरीर सुडौल और स्वस्थ रहता है। बेहतर और अच्छे स्वास्‍थ्‍य के लिए हर रोज जागिंग को अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए। लेकिन अगर कोई व्यक्ति उच्च रक्तचाप या दिल की बीमारी से पीड़ित हैं तो इसे शुरू करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह लेना जरूरी है।  

जागिंग करने के फायदे -

1. जागिंग करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है और सर्दी-जुखाम से हमेशा के लिये छुटकारा मिल जाता     है।

 2. जागिंग करने से शरीर का रक्तक संचार अच्छा होता है जिससे दिल मजबूत होता है।

 3. हर रोज जागिंग करने से शरीर में ऊर्जा का संचार होता है जिससे दिनभर आप तरोताजा रहते हैंi

4. यदि आपको रात में अच्‍छी नींद नहीं आती तो जागिंग करना शुरु करें क्‍योंकि इससे शरीर का पूरा व्यायाम हो जाता है और अच्छी नींद आती है। 

5. जागिंग करने से शरीर की मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत होती हैं। हिप्‍स, पैरों और पीछे की मासपेशियां मजबूत होते हैं। यह पैरों को भी बहुत मजबूत बनाता है, लेकिन इसके साथ आपको हेल्‍दी डाइट लेना भी जरुरी है। 

6. नियमित जागिंग करने से शरीर से कैलोरी बर्न होती है और शरीर में अतिरिक्त चर्बी नहीं जमा होती है, जिससे मोटापा नहीं बढ़ता। 

7. जागिंग, पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करता है और इससे पाचन तंत्र सक्रिय होता है।

www.indiamotivation.in

Motivation सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे

 फिल्मों के ऐसे Dialogue  जो आपको कहीं हिम्मत नहीं हारने देंगे और  सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे: Sultan कोई तुम्हे तब तक नहीं हरा स...