Tuesday, 24 May 2016

Business सफल बनाने के 10 Golden Rules



Business सफल बनाने के 10 Golden Rules

क्या आप सोच सकते हैं कि अपने बचपन में दूध बेचने वाला , घर-घर अखबार फेंकने वाला, और होटल में waiter का काम करने वाला अपने जीवन में क्या बन सकता है???……वो लाखों लोगों को नौकरी पर रख सकता है, किसी industry को पूरी तरह से बदल सकता है, वो दुनिया की सबसे बड़ी company बना सकता है…..और खुद बन सकता है America’s Richest Man. मैं बात कर रहा दुनिया की सबसे बड़ी Retail Company Walmart की स्थापना करने वाले Sam Walton की. सैम वाल्टन (1918-1992) को modern retail का जनक भी कहा जाता है, इन्ही का business model follow करते हुए आज Big Bazaar, More, Reliance Fresh जैसे stores भारत में भी खुल गए हैं.  वह 1982 से 1988 तक अमेरिका के सबसे अमीर व्यक्ति थे और आज की तारीख में भी वालमार्ट हमेशा Top 10 companies में रहती है और अरबों dollar का  व्यापार करती है.
Related Post:
Business शुरू करने में देरी की तीन वजहें
प्रैक्टिकल बिजनेस आइडियाज
तो भला आप ही सोचिये अगर इतनी बड़ी उपलब्धियों वाला व्यक्ति आपको business करने के गुण बताये तो बात में दम तो होगा ही. और आज मैं उन्ही के द्वारा बताये गए
10 Rules share कर रहा हूँ:
Sam Walton : The Retail King
Business  सफल बनाने के Golden Rules
Rule 1: अपने व्यवसाय के प्रति समर्पित रहिये :
आपको अपने business में किसी भी और व्यक्ति से ज्यादा यकीन होना चाहिए. यदि इंसान में अपने काम के  प्रति passion है तो वो अपने अन्दर की सारी खामियों से पार पा  लेगा. मुझे नहीं पता कि आदमी passion के साथ पैदा होता है या वो इसे develop कर सकता है. पर मैं इतना जानता हूँ कि आपको इसकी ज़रुरत पड़ती  है. यदि आप अपने काम से प्रेम करते हैं तो, तो आप हर रोज़ उसे best possible way में करना चाहेंगे,और जल्द ही आपके साथ काम करने वाले भी किसी बुखार की तरह इसे आपसे catch कर लेंगे.
Rule 2: Profit को सभी काम करने वालों में बाटिये और उन्हें partner की तरह treat करिए :
बदले में employees भी आपको as a partner treat करेंगे और तब आप जितना सोच नहीं सकते उससे भी अच्छा कर पायेंगे. आप चाहें तो company पर अपना control बनाये रखिये मगर एक सेवक के रूप में lead करिए. अपने साथियों को company के stocks खरीदने के लिए encourage करिए और retirement के समय उन्हें discounted stocks दीजिये.शायद हमने आज तक जो कुछ भी किया उनमे से ये सबसे  महत्त्वपूर्ण चीज  थी.
Rule 3: Motivate your partners. अपने partners को motivate कीजिये :
सिर्फ पैसा और ownership काफी नहीं है.हर रोज़ नए innovative तरीकों से अपने partners को motivate और challenge कीजिये. बड़े लक्ष्य निर्धारित करिए , competition को बढ़ावा दीजिये …अगर माहौल फीका पड़ रहा हो तो एक manager की जॉब दूसरे से switch कीजिये और उन्हें बेहतर करने के लिए उत्साहित कीजिये. अपने आपको बहुत predictable मत बनाइये, लोगों को guess करने दीजिये की आपकी अगली trick क्या होगी.
Rule 4: अपने partners को हर संभव चीज communicate कीजिये :
ऐसा करने से वो business को बेहतर समझ पायेंगे , और जितना अधिक वो समझेंगे उतनी ज्यादा care करेंगे. और जब वो care करने लगेंगे तब उन्हें  कोई रोक नहीं सकता. यदि आप अपने associates से बातें छुपायेंगे तो वो देर -सबेर समझ जायेंगे कि आप उनको partner नहीं consider करते हैं. सूचना शक्ति है , अपने asoocites को empower करके आपको जो फायदा होता है वो competitor को बात का पता चलने से होने वाले नुकसान से कहीं अधिक  है.
Rule 5: Associates business के लिए जो करते हैं उसकी प्रशंशा कीजिये :
Salary और share देने से आपको एक तरह की loyalty मिलेगी. लेकिन हर कोई अपने काम की प्रशंशा सुनना चाहता है. हम अक्सर अपनी प्रशंशा सुनना चाहते हैं, और खासतौर पर तब जब हम अपने किसी काम पर proud feel कर रहे हों. सही समय पर , सही शब्दों द्वारा की गयी सच्ची प्रशंशा का कोई विकल्प नहीं है. ये बिलकुल फ्री होते हुए भी एक खजाने के बराबर होती है.
Rule 6: Celebrate your success. अपनी सफलता को celebrate करिए :
यदि आप असफल हों तो उसमे कुछ humour खोजिये. अपने आप को बहुत seriously मत लीजिये. जब  आप tension free होंगे तो आपके साथ के लोग भी हल्का महसूस करेंगे.उत्साह दिखाइए – हमेशा. जब सब  fail हो जाए तो रंग बिरंगे कपडे पहन कर कोई silly गाना गिये. और फिर सभी को अपने साथ गाने को कहिये. अपनी कामयाबी का जश्न मानाने के लिए Wall Street पर मत नाचिये. ये किया जा चुका है. कुछ नया सोचिये, ये सब जितना हम सोचते हैं उससे कहीं अधिक ज़रूरी है और मस्ती से भरा हुआ भी, और इससे competitor भी मूर्ख बन जाते हैं.
Rule 7: अपनी कंपनी में हर किसी को सुनिए और ऐसा उपाय निकालिए कि वो आपस में बात करें :
जो सामने बैठते हैं —वो जो customer से बात करते हैं —सिर्फ वही जानते हैं कि वहां क्या चल रहा है. इसलिए ये जानने की कोशिश कीजिये कि वो क्या जानते हैं.Total Quality बस यही है. अपनी संस्था में नीचे तक  responsibility push करने के लिए और नयी ideas को सामने  लेन के लिए ज़रूरी है कि आप यह जानने की कोशिश करें कि आपके associate क्या कहना चाहते हैं.
Rule 8: अपने customers को उम्मीद से ज्यादा दीजिये :
यदि आप ऐसा करेंगे तो वो बार – बार वापस आयेंगे. उन्हें वो दीजिये जो वो चाहते हैं —और फिर उससे थोडा ज्यादा. उन्हें पता चलना चाहिए की आप उनको appreciate करते हैं. अपनी सभी गलतियों को स्वीकारिये और excuse मत दीजिये —माफ़ी मांगिये.आप जो कुछ भी करते हैं उसके पीछे खड़े रहिये. आज तक दो सबसे ज़रूरी शब्द जो मैंने पहले Wal-Mart sign के नीचे लिखे थे : “Satisfaction Guaranteed”. वो आज भी ऐसे ही लिखे हुए हैं और उनकी वजह से इतना सब कुछ हो  पाया.
Rule 9: अपने खर्चों को competition से बेहतर ढंग से control कीजिये :
यहीं पर आप competitive advantage पा सकते हैं. लगातार 25 सालों से – Wal-Mart के देश के सबसे बड़े retailer बनने से पहले — हम इस  industry में lowest Expense to Sales ratio में No.1 रहे हैं, आप बहुत सारी गलतियाँ कर के भी दुबारा उबर सकते हैं यदि आपके operations efficient हों. या आप  बहुत brilliant होते हुए भी business से बाहर  हो सकते हैं  अगर  आप बहुत inefficient हों.
Rule 10: धारा के विपरीत तैरिये :
दूसरी तरफ जाइये. Conventional Wisdom को छोड़िये. अगर हर कोई काम को एक ही तरह से कर रहा है तो बहुत ज्यादा chance है कि आप ठीक उलटी दिशा में जाकर अपना niche पा सकते हैं.पर इस बात के लिए तैयार रहिये कि आपको बहुत सारे लोग ये इशारा करेंगे की आप गलत दिशा में जा रहे हैं. मुझे लगता है कि मैंने इन तमाम सालों में किसी और बात से अधिक ये सुना है कि : 50,000 से कम आबादी वाला town एक discount store को ज्यदा समय तक support नहीं कर  सकता है|
indiamotivation.blogspot.com

No comments:

Motivation सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे

 फिल्मों के ऐसे Dialogue  जो आपको कहीं हिम्मत नहीं हारने देंगे और  सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे: Sultan कोई तुम्हे तब तक नहीं हरा स...