Sunday, 12 June 2016

success ke leye इन बातों को जीवन में हमेशा याद रखो ?

इन बातों को जीवन में हमेशा याद रखो –

मनुष्य को जीवन में कुछ बातों को ध्यान में रखकर जीना चाहिए जिससे वह जीवन में सफल हो जाता है अर्थार्थ अर्थार्थ जो भी कार्य करें जीवन में वह कुछ बातों को ध्यान में रखकर करें जो निम्न प्रकार से आगे है|

1. समय को व्यर्थ मे नष्ट न करो। समय को नष्ट करना यानि जीवन को नष्ट करना है क्योंकि जीवन समय से बंधा हुआ है। समय ही जीवन है। आत्मा है, मृत्यु के बाद एक श्वास को किसी भी कीमत पर फिर से नहीं लिया जा सकता। इसी से मनुष्य के जीवन समय का मूल्य स्वयं सिद्ध होता है।

2. यदि संसार में जीना हैं तो अजनबी बनकर जीओं। यही जीवन जीने की सर्वात्तम कला है। दुनिया में अपनापन लेकर जीना समस्त चिंताओं और दुखोे का कारण है। संसार में अणु मात्र भी अपना नही है। जिससे संयागे हुआ हैं उससे वियोग पक्का हैं। यही संसार का नियम है।

3. जो अन्याय को अनिती पूर्वक दूसरो का शोषण करते हैं, या अधिक संग्रह करते है। वे मृत्यु के पूर्व और मृत्यु के बाद हर समय दूखी रहते है। क्योंकि संग्रह किया हुआ सामान यही रह जाता है। और शोषण व संग्रह में किये हुए पाप उनके साथ जाते हैं। पाप कर्माें का फल ही दुख है। जो सत्य है।

4. संतान को अपार संपति नही उत्तम संस्कार देना चाहिए। संस्कारहिन रावण, कंस, दूर्योधन ने राज्य परिवार सहित स्वंय का नाष करवाया और उत्तम संस्कार वाले ध्रुव भक्त प्रहलाद ने संसार मे सर्वोत्तम पद पाया। उत्तम संस्कार ही संसार में सर्वश्रेष्ठ और सपूर्ण सपंत्ति है। जो सत्य है।

5. सो वर्षां के भोग विलास पूर्ण जीवन से एक दिन का त्याग का जीवन श्रेष्ठ है। सो वर्षों के पापमय जीवन से एक दिन का पूण्य का जीवन श्रेष्ठ है। सो पापी पुत्रों से एक पुण्यात्मा पुत्र श्रेष्ठ है। पाप की कमाई के लाखों के दान से न्यायनीति की कमाई, का एक रुपया का दान भी श्रेष्ठ है।

6. हमारी दशा कसाई के घर के उन बकरों की तरह हैं जो कितना भी हरा-भरा खाये एक दिन उसी कसाई के हाथो कट जाते है। इसी तरह हम संसार में कितना ही भागे विलास का जीवन जीयें एक दिन कालरूपी कसाई के हाथो मरना ही पडता है। कसाई के घर का बकरा देख रहा है कि कसाई ने एक-एक कर सभी बकरो को मार दिया है। अब मेरा भी नंबर है। इसी तरह संसार में कालरूपी कसाई एक-एक कर सबको मार रहा है। अब मेरा भी नंबर है। ससार मे मौत और ईष्वर आत्मा को कभी न भूलों क्योकि मृत्यु की स्मृति कुकर्माें से हटाती है। और ईष्वर जन्म-मरण से मुक्त कर देता है।

7. बहुत कुछ पाकर भी कुछ नही पाया। जो खुदा से बेखबर है। कुछ नही पाकर भी सबकुछ पाया जिसकी खुदा पर नजर है।

8. हवा का झरोखा तूफान नही होता है। मंदिर का हर पत्थर भगवान नही होता है। इुनिया में हर इंसान इंसान नही होता है। जिसमे हो इंसानियत वही इंसान होता है।

9. हमेशा सत्य का साथ दें और असत्य का कभी भी साथ नहीं दें अर्थार्थ सत्यवादी लोगों को ही सपोर्ट करें जिसे आपका जीवन अच्छा होगा|

10. हमेशा अच्छे दोस्त ही बनाए और अच्छे दोस्तों की ही संगति में रहे यदि एक भी बुरा दोस्त होता है वह सब को खराब कर देता है तो हमेशा अच्छे दोस्त ही बनाए और अच्छे लोगों से ही रिश्ता रखे|

11.इमानदार व्यक्ति बने कभी भी मन में छल कपट की भावना नहीं रखनी चाहिए इससे मनुष्य आगे नहीं बढ़ पाता है तो हमेशा ईमानदार रहे|

12.बेईमान लोगों से दूर रहें मनुष्य को कभी भी बेईमानी नहीं करनी चाहिए और बेईमान लोगों से दूर ही रहना चाहिए|

13.पॉजिटिव थिंकिंग मनुष्य को हमेशा सकारात्मक सोच ही रखनी चाहिए कभी भी नकारात्मक सोच के साथ ने जिए और हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढें|
तो दोस्तो आप सबको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को भी शेयर करें और हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़े|

धन्यवाद दोस्तों !   www.indiamotivation.in

No comments:

Motivation सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे

 फिल्मों के ऐसे Dialogue  जो आपको कहीं हिम्मत नहीं हारने देंगे और  सफलता पाने का जज्बा हमेशा जगाए रखेंगे: Sultan कोई तुम्हे तब तक नहीं हरा स...